cyber security kya hai

CYBER SECURITY क्या है? CYBER CRIME से कैसे बच सकते है जाने डिटेल्स में.

हेल्लो दोस्तों कैसे है आपलोग. सभी को मेरे तरफ से नमस्कार. आज मै बहुत ही important टॉपिक लेकर आया हूँ. Cyber security क्या है और Cyber Crime से हम अपने को कैसे बचा सकते है? जो normal सभी internet user के लिए काफी फायदेमंद होने वाली है.

आज के टॉपिक में मै Cyber security के बारे में बताने वाला हूँ. आपलोग जानते ही होंगे की आजकल साइबर क्राइम कितना बढ़ गया है. आज के डेट में सभी लोग internet use करते है. जिसमे से काफी लोगो को ये पता नहीं होता की इसको secure कैसे use करते है.

तो आज के ब्लॉग में मै इसी के बारे में डिटेल्स देने वाला हु. जिसमे आपको बेसिक पता चल जायेगा की internet use करते समय हमें किन किन बातों का ध्यान देना जरुरी होता है. और इन छोटे छोटे बात को follow कर के अपने आप को इस साइबर क्राइम के होने से बचाया जा सकता है.

साइबर सिक्यूरिटी क्या है? – WHAT IS CYBER SECURITY IN HINDI

असल में cyber security की उत्पति Cyber + Security के मिलने से हुई है. cyber के मतलब होता है internet और security का मतलब होता है सुरक्षा. दोनों का मतलब हुआ internet को security देना. हमलोग जो internet use करते है उसमे security नहीं होती है.

क्योकि ये एक पब्लिक network है. ये जब end user तक जाता है तब उसमे हमलोग अलग अलग तरह से security लगाते है. जैसे की एंटीवायरस या फ़ायरवॉल. तब जाकर कही हमारा end device(Computer) secure माना जाता है.

Cyber Security हमलोग अपने कंप्यूटर या मोबाइल के डाटा को चोरी होने से बचाने के लिए use करते है. हम अपने कंप्यूटर के डाटा जैसे फाइल्स, फोटो या कोई डॉक्यूमेंट को साइबर क्राइम से बचाने में use करते है. इसके पीछे काफी IT professional होते है जो हमारे डाटा को security देने में हेल्प करते है.

साइबर सुरक्षा हमारे लिए क्यों आवश्यक है?

आज के technology में सभी चीज को computrise किया जा रहा है. क्योकि सबकुछ कंप्यूटर से ही operate हो रहे है. तो इन सारे computers को हमें secure भी रखना जरुरी है. अगर secure नहीं होंगे तो हमारे important डाटा चोरी हो सकता है. या हमारे कंप्यूटर hack कर के पूरा बंद कर सकते है. इसलिए Cyber Security की जरुरत पड़ती है.

बिना साइबर सिक्यूरिटी के हमारे सिस्टम फेल किये जा सकते है. जिससे हमारे काम पूरा बंद हो सकते है. हैकर के द्वारा virus को हमारे सिस्टम में इंजेक्ट कर सकते है. और हमारे important डाटा को चोरी करने के उसके बदले फिरौती की डिमांड कर सकते है.

तो इसलिए ऐसे सब प्रॉब्लम से बचने के लिए हमें साइबर सुरक्षा की जरुरत होती है. नहीं तो हमारे business के या पर्सनल डाटा चोरी हो सकता है और उसका मिसयूज किया जा सकता है.

CYBER SECURITY के प्रकार

साइबर सुरक्षा को अलग अलग टाइप में devide किया गया है. जिससे की end user को अच्छे से सुरक्षा प्रदान किया जा सके. इसमें Hardware और Software दोनों का इस्तेमाल किया जाता है. आइये निचे देखते है साइबर सुरक्षा के अलग अलग Types के बारे में :

GATEWAY SECURITY

इसके जरिये ही हमलोग LAN Network तक जाते है और उसका डाटा को बाहर ले जाते है. वैसे राऊटर होते है जहा पर हमारे ISP से internet दिया जाता है. और मैंने उपर में बताया है की internet secure नहीं होते है. तो जब ये क्लाइंट राऊटर में enter करते है तो unsecure होते है. जिससे हमारे सिस्टम को hack होने के chances बढ़ जाते है.

तो ऐसे में इन सब से बचने के लिए हमलोग फ़ायरवॉल का use करते है. जो हमारे लोकल network को secure रखता है.

APPLICATION SECURITY

Network में use होने वाले application को भी security देना जरुरी होता है. नहीं तो virus यहाँ से भी हमारे सिस्टम तक जा सकते है और हमारे डाटा को हानि पंहुचा सकते है. इसलिए इसको इनस्टॉल करने से पहले एक security से गुजरना पड़ता है.

EMAIL SECURITY

Email को hack होने से बचाने के लिए इसका use किया जाता है. जिसमे spam filter जैसे टूल होते है जिससे email को secure कर सकते है. इसमे हमारे Hardware और Software भी सुरक्षा प्रदान करते है.

DATA LOSE PREVENTION

इसमें हम डाटा को secure करते है जिसमे डाटा को चोरी होने के chanses नहीं होते है. इसमें डाटा को एनकोड कर दिया जाता है जिससे इसको डिकोड करना मुश्किल हो जाता है. और डाटा secure रहता है.

NETWORK ACCESS CONTROL

ये सबसे important होता है. क्योकि अगर हैकर आपके  सिस्टम से जुड़ नहीं पाएंगे तो hack कैसे करेंगे. कहने का मतलब है इसमें हम policy define कर देते है जिसमे कोई भी फालतू सिस्टम को access नहीं मिल पाता. ये feature हमारे फ़ायरवॉल में और राऊटर में भी होता है. जो user को फ़िल्टर कर देता है.

ANTIVIRUS

ये सबसे लास्ट में आता है. क्योकि इसको हमलोग अपने सिस्टम में इनस्टॉल करते है. इसके use से हमलोग अपने सिस्टम को और भी ज्यादा secure कर सकते है. वैसे तो फ़ायरवॉल लगे होते है जिससे virus के chances नहीं होते है. लेकिन एंटीवायरस के वजह से हमारे सिस्टम और भी secure हो जाते है.

एंटीवायरस के वजह से हमारे Internet Banking या Social Media ये सब secure हो जाते है. इसके साथ और भी बहुत से feature आते है जो तरह तरह के security देते है.

CYBER ATTACK TYPES IN HINDI

cyber security kya hai
Image of Cyber Security kya hai 
  • PHISHING
  • SMISHING
  • MALWARE
  • DENIAL OF SERVICE (DoS)
  • MAN-IN-THE-MIDDLE (MITM)
  • SQL INJECTION

 PHISHING

ये साइबर अटैक की दुनिया में एक आम तरीका माना जाता है. इसमें हैकर ज्यादातर mail के जरिये अपना टारगेट सेट करते है. इसमें किसी भी वेब पेज का dublicate पेज बनाकर अकाउंट और इनफार्मेशन को hack किया जाता है. हैकर मैलिशियस mail send करते है जो देखने में रियल लगते है.

जैसे की कुछ ऐसा mail आएगा जो देखने में लगेगा की आपके बैंक से आया है. तो हमलोग क्या करते है उसी लिंक को access कर के उस लिंक को ओपन करते है. फिर बहुत लोग अपना username और password enter करते है. लेकिन जैसे ही enter करते है तो कुछ error आ जाता है.

और हमें लगता है की server problem है. फिर उसको छोड़ देते है. लेकिन ऐसे में उस Fake web page से हमारा ID और password हैकर के database में चला जाता है. जिसका गलत use वो लोग कर के पैसा निकाल लेते है.

Same इसी तरीका से ये लोग हमारे सोशल मीडिया को भी hack कर लेते है. जिसमे लिखा हुआ आता की आपके अकाउंट को कुछ update आया है. जिससे हमलोग update करने के लिए लॉग इन करते है. और हम अपना ID, password उन तक खुद से पंहुचा देते है.

इससे बचने के लिए कभी भी इस तरह के लिंक को ओपन न करे. अगर करना भी पड़े तो खुद से लिंक का यूआरएल अपने ब्राउज़र में enter करे. फिर लॉग इन कर के जो करना है कर सकते है. ओपन करते समय ध्यान रहे की https:// लिखा रहे. जो की security के बारे में बताता है.

SMISHING

Smishing भी phishing का ही के पार्ट है. इसमें SMS के जरिये हमारे जानकारी चोरी की जाती है. आपने देखा होगा की हमलोग को कभी sms आता है की आपने लाटरी जीती है. अगर आपको इसके पैसा चाहिए तो लिंक पर क्लिक कर के फॉर्म में अपने जानकारी enter करे. और हमलोग क्या करते है अपने बेसिक जानकारी उनको दे देते है.

जिससे वो लोग के पास जानकारी चली जाती है. और उससे वो हमारे मोबाइल को hack कर के डाटा चोरी कर सकते है. आपलोग को पता है ही की आजकल maximum काम हमलोग मोबाइल से ही करते है. जिसमे कितना important डाटा रहता है. तो ऐसे में आप किसी भी फालतू लिंक को क्लिक करने से बचे.

 MALWARE

Malware एक software होता है. जो हमारे सिस्टम में इनस्टॉल हो जाते है. ये सिस्टम तक email या pirated software के जरिये आ जाते है. और खुद से इनस्टॉल हो जाते है. जिसमे कई तरह के malware हो सकते है जैसे ransomware, spyware या trojan. ये सारे हमारे सिस्टम को डैमेज करने डाटा को डिलीट करने या hack करने में हेल्प करते है.

ये सब में सबसे खतरनाक malware ransomware को माना गया है. ये सिस्टम के सबसे सेंसेटिव डाटा को चोरी करता है. और उसको एन्क्रिप्ट कर देता है. उसके बाद पॉप अप के जरिये फिरोती मांगते है. अगर नहीं देने पर वो डाटा को डिलीट कर सकते है. या और भी मिसयूज कर सकते है.

इससे बचने के लिए अपने PC में अच्छे एंटीवायरस का use करे. जिससे आप ऐसे अटैक से बच सकते है.

 DENIAL OF SERVICE (DoS)

ये काफी इफेक्टिव हैकिंग तकनीक माना जाता है. इसमें हैकर के द्वारा हमारे network server या web server पर बहुत ज्यादा मात्रा में ट्रैफिक भेजा जाता है. जिससे हमारा server बिलकुल भी काम नहीं कर पाता है. और server पूरा down हो जाता है.

DoS के जरिये server को काफी slow किया जा सकता है. या बंद भी किया जा सकता है. इसका use ज्यादातर user को service से दूर रखने में किया जाता है. या server का कॉन्फ़िगरेशन को खराब करने के लिए किया जाता है. इससे बचने के लिए आप अपने server को secure रखे. जिससे बाहर का कोई उसका access न कर सके.

MAN-IN-THE-MIDDLE (MITM)

MAN-IN-THE-MIDDLE में हैकर दो लोगो के बीच एक communication स्थापित करता है. ये दो users या एक user के बीच में हो सकता है. ये user और एक एप्लिकेशन के बीच में हो सकता है. ये एक सिस्टम और user के बीच हो सकती हैं. इनमे से एक हैकर होता है जो दो लोगो के बीच में बैठा रहता है. और हमारे बीच के communication को track करते रहता है.

इस तरह से दो लोगो के बीच के communication का डाटा हैकर के पास चला जाता है. जिसमे ज्यादातर बैंक से रिलेटेड जानकारी होती है.
ऐसे में अगर इससे बचना है तो ये ध्यान दे की आपकी internet connection secure रहे. कभी भी कुछ भी internet पर ब्राउज करे तो ध्यान रहे की https वाले साईट को ही access करे.

 SQL INJECTION

ये एक ऐसा तकनीक है जिसमे वेबसाइट को hack किया जाता है. सभी लोग जानते है की एक वेबसाइट में दो चीज मेन होते है. एक html or php code और दूसरा उसका डेटाबेस. किसी भी साईट का उसका database सबसे important पार्ट होता है.

क्योकि जितने भी हमारी जानकारी होती है वो database में ही save होती है. जैसे username, password इत्यादी. यही सब चीज एक हैकर को चाहिए होता है. तब हैकर sql injection का use करता है. जिसमे ये लोग हमारे database के इनफार्मेशन को चुरा लेते है.

इसमें जब इनको id password मिल जाता है. तो फिर उनको उस साईट का पूरा command उनके पास आ जाता है.

कोई भी साईट को hack करने से पहले हैकर सबसे पहले vulnerability search करते है. जिसमे ये पता किया जाता है की उस साईट में क्या कमी है. उसके बाद हैकर उस हिसाब से उस साईट में sql इंजेक्ट कर hack करते है.

 CYBER CRIME SE BACHNE KE UPAY

cyber security kya hai

 

Image of Cyber Security kya hai
  1. PASSWORD STRONG रखे
  2. COMPUTER को SECURE करे
  3. अपने MOBILE DEVICES को SECURE करे
  4. WIRELESS NETWORK को SECURE रखे
  5. डाटा को पासवर्ड से प्रोटेक्ट करे
  6. सोशल मीडिया के सेटिंग को मैनेज करे
  7. सॉफ्टवेयर को टाइम से अपडेट करते रहे
  8. ऑनलाइन शौपिंग में सिक्योर पेमेंट का ध्यान दे
  9. कुछ दिन के अंतराल पर पासवर्ड बदलते रहे
  10. सिक्योर नेट बैंकिंग पर ध्यान दे
  11. किसी भी फालतू लिंक पर क्लिक न करे

आइये अब एक एक कर के सबको थोडा डिटेल्स में जान लेते है.

1. PASSWORD STRONG रखे

अपने सिस्टम, मोबाइल या कही का भी password काफी स्ट्रोंग रखे. स्ट्रोंग कहने का मतलब है की आपके password में लेटर, नंबर और स्पेशल करेक्टर होने ही चाहिए. इसमें भी छोटे और बड़े letter का कॉम्बिनेशन लगाये. जैसे की ABcXyZ@@_546! इस तरह के password को जल्दी कोई hack नहीं कर पाता है.

कभी भी अपने password में birth date या मोबाइल नंबर या किसी का नाम नहीं रखना चाहिए. क्योकि ये काफी आसानी से hack हो जाते है. हैकर के पास ऐसे टूल होते है जो इस तरह के कॉम्बिनेशन को find कर सकते है. जिसमे काफी सारे password के कॉम्बिनेशन रहते है.

2. COMPUTER को SECURE करे

अपने कंप्यूटर को हमेशा secure रखे. अपने सिस्टम में हमेशा अच्छे वाला एंटीवायरस का use करे. जिसमे हर तरह का security मिल जाता है. जैसे की internet security, email security इत्यादि. सिस्टम को password लगा कर हमेसा रखे. अगर आप उस कंप्यूटर पर ऑफिसियल वर्क करते है तो.

Best Antivirus

निजी कंप्यूटर को किसी भी ऐसे person को use न करने दे. जिसको आप जानते नहीं हो. कंप्यूटर के software और OS को टाइम टू टाइम update करते रहे. जिससे security level और भी स्ट्रोंग होते रहते है.

3. MOBILE DEVICES को SECURE करे

मोबाइल को भी secure कर के आप साइबर क्राइम से बच सकते है. मोबाइल में कभी भी unauthorize apps को इनस्टॉल नहीं करे. इससे भी hack होने के chances रहता है. कोई भी ऐसा लिंक को क्लिक न करे जिसे आप नहीं जानते. फालतू के froud call से बचे.

जिसमे कुछ लोग इसके वजह से शिकार हो जाते है. और अपने सारे डिटेल्स सामने वाले को हम दे देते है. कभी भी apps डाउनलोड करना है तो trusted places से ही करे. मोबाइल के apps और ऑपरेटिंग सिस्टम को हमेशा update करते रहे. जिससे security और भी स्ट्रोंग होती रहती है.

4. WIRELESS NETWORK को SECURE रखे

वायरलेस नेटवर्क को हमेशा मॉडिफाई और अपडेट करते रहे. समय के साथ password change करते रहे. और हो सके तो अपने फाइनेंसियल लेन देन wifi network से करने से बचे. जब भी करे तो वायर्ड नेटवर्क या मोबाइल नेटवर्क में ही करे.

5. डाटा को पासवर्ड से प्रोटेक्ट करे

अपने सेंसेटिव डाटा को password से प्रोटेक्ट कर के रखे. जैसे ऑफिसियल डाटा, पर्सनल डाटा या फाइनेंसियल डाटा. ऐसे डाटा का रेगुलर बैकअप लेते रहे. हो सके तो इसका लोकेशन भी change करते रहे. जिससे आपका डाटा secure रहेगा.

6. सोशल मीडिया के सेटिंग को मैनेज करे

अपने सोशल मीडिया प्रोफाइल जैसे फेसबुक, ट्विटर, linkdin या instagram को प्राइवेट कर के रखे. जिससे कोई भी अपने पर्सनल डाटा नहीं देख सकता. हो सके तो 2-way वेरिफिकेशन password का use करे. कोई भी पोस्ट शेयर करने से पहले एक बार देख ले. कही कोई ऐसा पोस्ट तो नहीं जिससे आपको नुकसान हो सके.

7. सॉफ्टवेयर को टाइम से अपडेट करते रहे

सिस्टम के ऑपरेटिंग सिस्टम और इन्टरनेट सिक्यूरिटी सॉफ्टवेयर को update करते रहे. क्योकि जब भी software में कुछ कमी आता तो उसको पूरा करने के लिए ही नया update आता है. जिससे उसका कमी को दूर किया जाता है जिससे वो और भी secure हो जाता है.

हैकर इसी टाइप के कमी को search करते रहते है. और उसी के हेल्प से हमारे डाटा को वो चोरी कर लेते है. तो रेगुलर बेसिस पर अपने software को update करते रहे.

8. ऑनलाइन शौपिंग में सिक्योर पेमेंट का ध्यान दे

आजकल online shopping काफी बढ़ गया है. तो इसको करने से पहले आपको कुछ बातों का ध्यान देना जरुरी है. अक्सर हमलोग जब shopping करते है तो अपने card के डिटेल्स को पेमेंट करने के बाद save कर देते है. ये सोच कर की next टाइम फिर से card का डिटेल्स डालने की जरुरत नहीं पड़ेगी.

तो ऐसा भूल कर भी  न करे. अपने card का डिटेल्स save नहीं करे. हमेशा एक जेन्युइन online प्लेटफार्म से shopping करे. ऐसा से बिलकुल भी न करे जिसका नाम आपने कभी सुना न हो. आप पढ़ रहे है Cyber security क्या है और Cyber Crime से हम अपने को कैसे बचा सकते है?

9. कुछ दिन के अंतराल पर पासवर्ड बदलते रहे

अगर साइबर क्राइम से बचना है तो हर कुछ दिन पर अपने password change करते रहे. अपने नेट banking का तो जरुर करना चाहिए. जिससे हम ऐसे क्राइम से बच सकते है.

10. सिक्योर नेट बैंकिंग पर ध्यान दे

नेट बैंकिंग काफी सेंसिटिव होते है. इसको करते समय काफी कुछ ध्यान देने की जरुरत होती है. जो की मैंने निचे समझाया है.

  • कोई भी लिंक से जाकर नेट बैंकिंग कभी न करे
  • without https वाले यूआरएल को भूल कर भी न ओपन करे
  • नेट बैंकिंग करते समय password enter करते है तो vertual कीबोर्ड का use करे
  • किसी भी दुसरे के सिस्टम में नेट बैंकिंग करने से बचे
  • साइबर कैफ़े में नेट बैंकिंग न करे
  • नेट बैंकिंग करते है तो अपने सिस्टम में एंटीवायरस का use जरुर करे
  • use कर लेने के बाद लॉगआउट करना न भूले
  • पब्लिक wifi से कनेक्ट कर के नेट बैंकिंग न करे

11. किसी भी फालतू लिंक पर क्लिक न करे

कभी भी कोई लिंक ओपन कर के उसको access न करे. जब तक आप उसको अच्छे से न जानते हो. कभी कभी मेसेज आता है की आपने इनाम जीता है. इसको पाने के लिए निचे दिए गए लिंक ओपन करे और कुछ बेसिक डिटेल्स फिल करे. और हमलोग में से काफी लोग कर भी देते है.

ये नहीं पता की हम अपना डिटेल्स उनको दे दिए. अब उस डिटेल्स का गलत use किया जा सकता है. तो हमेशा valid लिंक पर ही क्लिक करे जिसको आप जानते है.

CONCLUSION

आज आपने यहाँ सिखा की Cyber Security क्या है और Cyber Crime से हम अपने को कैसे बचा सकते है? इस ब्लॉग में मै आपलोग को काफी कुछ tips दिया हु. जिसके हेल्प से आप काफी हद तक Cyber Security और Cyber Crime के बार में जान गए होंगे.

अगर मै जो बताया हु इसको follow करते है तो आप Cyber Crime से बच सकते है. इस पोस्ट को अपने जानने वाले और दोस्तों तक जरुर शेयर करे. क्योकि इसके हेल्प से लोगो को पता चल पायेगा की किस तरह साइबर क्राइम से बचा जा सकता है. अगर कुछ पूछना है तो हमें कमेंट करे या mail भी लिख सकते है.

Mail ID : technogyanin@gmail.com

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here