Difference between Genuine and Pirated Windows

हेल्लो दोस्तों नमस्कार कैसे है आप ? अच्छे ही होंगे. तो आज मैं आपलोगों के लिए एक और नए टॉपिक लेकर आ गया हु. जिसमे कुछ खास बात करने वाले है, जो की सभी के लिए काफी important है. आप सभी लोग जो मेरे ब्लॉग अभी पढ़ रहे होंगे इसमें से maximum लोगो के पास computer तो होंगे ही. और अगर नहीं है तो उनके लिए भी काफी important है. बस बने रहिये हमारे साथ और नये नए information के साथ update रहे. तो आइये आगे देखते है की Genuine and Pirated Windows में क्या अंतर होते है ?

Difference between Genuine and Pirated Windows

image of Difference between Genuine and Pirated Windows

GENUINE AND PIRATED WINDOWS में अंतर

आज के टॉपिक मैं बात करने वाला हु Windows OS software के बारे में. जो लोग computer use करते होंगे उनको तो पता ही होगा की OS क्या होते है. OS हमारे और computer के बिच एक इंटरफ़ेस का काम करता है, जिससे हमारा computer हमारे दिए गए command को समझता है और उसपर work करके हमें output देता है. तो जो लोग भी computer use करते होंगे वो Genuine and Pirated Windows के बारे में भी सुने होंगे. आज का important टॉपिक यही है की आखिर दोनों के बीच में अंतर क्या क्या होते है?

चलिए आगे देखते है की Genuine and Pirated Windows क्या होते है और इनके क्या फायदा और क्या नुकसान है.

जब भी आप नया computer खरीदने जाते होंगे तो उस टाइम जरुर shopkeeper से सुने होंगे. वो सबसे पहले हमसे यही पूछता है की computer में Windows कौन सा रहेगा. Original Windows install करना है या Pirated Windows install करना है.

क्या होते है GENUINE AND PIRATED WINDOWS :

Windows, DOS या Linux ये सभी एक operating system है. जो की किसी भी computer को operate कराने के लिए काफी खास होते है. इनके बिना हमारा computer operate नहीं हो सकता है. जब हमलोग market में नया laptop या dektop खरीदते है तो हमें Windows based या DOS based computer मिलते है. DOS based OS normal user के लिए नहीं होते है. इसपर वही काम कर सकता है जिसको command में अच्छा जानकारी हो.

यदि आप DOS based computer लेते है तो बाद में आपको Windows operating system install करना ही पड़ेगा. तभी आप अपने computer का use अच्छी तरह से कर पाएंगे. अब बात आती है की कैसा operating system install करे. तो इसमें ये दो तरह के आते है एक original वाला और दूसरा pirated. इसमें जैसे कोई स्टूडेंट हो या नार्मल user है तो वो pirated को ही prefer करता है. क्योकि ये operating system free होते है. लेकिन free के साथ साथ काफी खतरनाक भी होते है. इससे आपका computer secure नहीं रह पाता है.

Friends जब भी आपलोग original या genuine windows वाले computer खरीदते है तो, उसकी कीमत लगभग 4000 से 5000/- रूपये ज्यादा होते है. या इनसे भी ज्यादा हो सकते है. अगर वही DOS या Linux वाला computer लिया जाये तो वो काफी सस्ता पड़ता है. क्योकि ये operating software free होते है. लेकिन बहुत से दुकान वाले यहाँ लोगो को मुर्ख बनाकर original windows के दाम ले लेते है. तो यहाँ हमें थोड़े ध्यान देने की जरुरत होती ताकि हमें मुर्ख न बना पाए.

PIRATED WINDOWS के नुक्सान :

  • हमलोग जो pirated windows अपने computer में use करते है वो actual में genuine के ही copy होते है. जिसे crack करके हमलोग use करते है. जिसको हम चोरी भी कह सकते है क्योकि ये genuine के copy version है. और यदि आपलोग इस तरह के operating system use करते है तो इसपर Legal action भी microsoft चाहे तो ले सकता है.
  • Pirated software के ज्यादा chances होते है currupt होने के. जिससे हमारे computer के desktop screen पूरी तरह black हो जाते है. और उसपे कोई भी हम wallpaper नहीं लगा पाते है. जैसा की फोटो में दिख रहा है.

Difference between Genuine and Pirated Windows

image of Difference between Genuine and Pirated Windows
  • screen black होने के बाद हमारे computer में application software भी ढंग से काम नहीं कर पाते है.
  • Pirated software में computer की speed भी काफी slow हो जाती है. जो की genuine की तुलना में थोड़ी slow work करती है.
  • Pirated software का सबसे बड़ा नुकसान है window को update करना. अगर आप चाहते है की कोई नया update आया है तो उसको update कर ले. तो शायद कुछ टाइम के लिए तो update हो जायेगा लेकिन वो success नहीं होता. क्योकि जब हमलोग pirated windows को update करते है तो microsoft के server ऐसे windows को detect कर लेता है की ये windows pirated है. और आपका update block कर दिया जाता है.
  • फिर से आपका computer के screen black हो जाते है. तो अगर आप चाहते है की computer के screen black न हो तो आप अपने computer के auto update को हमेशा के लिए बंद कर दे . इससे आपका windows pirated होते हुए भी genuine की तरह दिखेगा. और कभी screen black नहीं होगा.
  • Pirated operating system secure नहीं होते. इसमें हैकर आसानी से आपके system को चाहे तो hack कर सकते है.

जरूर पढ़े: 

 GENUINE WINDOWS के फायदें :

  • genuine windows के सबसे बड़ा फायदा ये है की हमें हमेशा update patch मिलते है. जिससे कोई भी new update आता है तो उसका use हम कर पाते है.
  • सबसे बड़ा फायदा ये है की हमारा computer पूरी तरह secure होते है.
  • हमें microsoft के तरफ से support भी मिलते है.
  • अब आप सोच रहे होंगे की ये secure कैसे होते है क्योकि pirated और genuine windows तो लगभग लगभग same ही होते है. तो security कैसे genuine वाले windows को ही मिलते है.

तो आइये इसको अच्छे से समझते है, जब भी microsoft को लगता है की हमारे windows में कोई virus attack हो सकता है या हैकर hack कर सकते है. तो ऐसे में microsoft वाले update देते है जिससे की जो भी loop hole है जहा से हैकिंग के chances लग रहे है. उसको ये लोग update के जरिए उस loop hole को fill कर देते है. जिससे हमारा computer secure रहे. तो ये सब बाते genuine windows को खास बनाते है.

अभी हाल ही में ransomware नाम के virus का attack हुआ तो उससे बचने के लिए microsoft ने एक update दिया था. जो की सिर्फ genuine user के लिए ही थे.

तो आपने देखा की कैसे दोनों में difference है. हमलोग कुछ पैसा बचाने के लिए pirated windows use करते है और problem में फंस जाते है. इससे बढ़िया है आपलोग genuine windows का इस्तेमाल करे, जिसमे regular update और support मिलते रहता है.

Genuine windows download करने के लिए निचे link पर क्लिक करे :

Windows 10

Windows 7

Notes :

आशा करता हु की ये पोस्ट आपको पसंद आएगा.  इस पोस्ट को अपने दोस्त और फॅमिली तक जुरूर पहुचाये. जिससे उन्हें भी इसका फायदा मिल सके और इस्तेमाल कर सके. ये पोस्ट hindi में है. जिससे काफी लोगो को समझने में मदद मिलेगा. अगर आपको लगता है की इसमें कुछ और improvement चाहिए तो कृपया हमें जरुर comment या mail करके बताये. और अपना सुझाव जरुर share करे. जिससे मैं और नए नए topic आपलोगों के लिए ला सकू. Mail ID : technogyanin@gmail.com

Thanks!!!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here