telegram kya hai

आप Telegram app के बारे में तो जानते ही होंगे। Whatsapp ने भले ही दूसरे मैसेन्जर एप को पीछे छोड़ दिया हो। लेकिन Telegram दुनियाभर में आज भी तेजी से पॉपुलर हो रहा है। इसीलिए आज हम Telegram App के बारे डिटेल में बात करेंगे।

तो आइए जानते हैं- Telegram क्या है? इस पर एकाउंट कैसे बनायें?

TELEGRAM क्या है?

टेलीग्राम एक तरह का cloud-based instant messaging app है। यह लगभग व्हाट्सएप मैसेन्जर की तरह है लेकिन इसके फ़ीचर्स उससे कहीं ज़्यादा अलग हैं। इसमें वॉइस कॉल, वीडियो कॉल, ग्रुप, टेलीग्राम चैंनल की सुविधाएं हैं। इसके जरिये आप किसी भी तरह के बड़े साइज के डॉक्यूमेंट, ऑडियो , विडियो या फ़ोटो को शेयर कर सकते हैं।

ये एक cloud based app है यानी कि इसका डाटा सीधे Telegram के सर्वर पर स्टोर होता है जो कि पूरी तरह से एन्क्रिप्टेड होता है।

गूगल प्लेस्टोर पर Telegram को 4.5 की रेटिंग्स मिली है और अब तक 500 मिलियन से भी ज़्यादा लोग इसे डाउनलोड कर चुके हैं।

TELEGRAM की शुरुआत

टेलीग्राम को 2013 में सबसे पहले iOS  के लिए लांच किया गया था। जिसे Nikolai और Pavel Durov नाम के दो रूसी भाइयों ने बनाया था।

सबसे पहले अगस्त 2013 में इसे iOS प्लेटफार्म के लिए लांच किया गया। उसके बाद अक्टूबर 2013 में इसे Android के लिए भी लांच कर दिया गया। धीरे धीरे यह windows phone, Mac OS, GNU/ Linux के लिए भी लांच कर दिया गया।

टेलीग्राम कैसे डाउनलोड करें?

Telegram कई तरह के प्लेटफार्म के लिए मौजूद है। इसे आप Google playstore और Telegram की ऑफिसियल साइट दोनों जगह से डाउनलोड कर सकते हैं।

कंप्यूटर में टेलीग्राम चलाने के लिए आप इसकी ऑफिसियल साइट से इसे Windows, Mac और Linux जैसे ऑपरेटिंग सिस्टम के लिए डाउनलोड कर सकते हैं। यहाँ तक कि आप इसे ऑनलाइन भी इस्तेमाल कर सकते हैं आपको केवल एक मोबाइल नंबर की ज़रूरत पड़ेगी।

टेलीग्राम पर अकाउंट कैसे बनायें?

आप अपने मोबाइल नंबर का इस्तेमाल करके टेलीग्राम पर आसानी से एकाउंट बना सकते हैं। आपको बस नीचे दिए स्टेप्स को फॉलो करना है।

स्टेप-1. सबसे पहले आपको प्लेस्टोर से Telegram app को डाउनलोड और इनस्टॉल करना है।

स्टेप-2. अब आपको Telegram app को ओपन करना है। ओपन करने के बाद आपको Start Messaging पर क्लिक करना है।

स्टेप-3. अब एक नया पेज खुलेगा जिसमें आपको अपनी country का नाम सेलेक्ट करना है और अपना फ़ोन नम्बर डालना है और टिक मार्क पर क्लिक कर देना है।

स्टेप-4. अब आपके मोबाइल नंबर पर एक OTP जाएगा आपको उसे टेलीग्राम में वेरीफाई कराना है।

वेरीफाई होने के बाद आपको अपना फर्स्ट नेम और लास्ट नेम डालना है और टिक मार्क पर क्लिक कर देना है। जिसके बाद आपका Telegram अकाउंट बन के तैयार हो जाएगा।

TELEGRAM के फ़ीचर्स

यूं तो यह व्हाट्सएप जैसा ही एक सोशल मैसेन्जर एप है लेकिन इसके दूसरे फ़ीचर्स भी इसको ख़ास बनाते हैं।

Basic Features- इसके कई बेसिक फ़ीचर्स हैं जैसे-

  1. वीडियो कॉलिंग
  2. वॉइस कॉलिंग
  3. टेलीग्राम ग्रुपआप एक टेलीग्राम ग्रुप में मैक्सिमम 2 लाख मेंबर ही रख सकते हैं जो कि आपको दूसरे मैसेन्जर एप में नहीं मिलता।
  4. टेलीग्राम चैनलयह भी एक ग्रुप जैसा ही होता है लेकिन इसमें केवल Admin ही कंटेंट पोस्ट कर सकता है। एक व्यक्ति अपने टेलीग्राम चैंनल के ज़रिए अपना कंटेट दूसरों को प्रोवाइड करता है। आप इसमें प्राइवेट और पब्लिक दोनों तरह के चैंनल बना सकते हैं।
  5. अनलिमिटेड स्पेसटेलीग्राम में backup की ज़रूरत नही होती इसका सारा डाटा इसके सर्वर पर स्टोर होता है। यानी आप टेलीग्राम से डाउनलोड किये गए किसी भी मीडिया फ़ाइल को अपने स्टोरेज से डिलीट करने के बाद दोबारा डाउनलोड कर सकते है।
  6. मल्टीपल अकाउंटआप टेलीग्राम एप पर एक ही साथ एक से ज़्यादा अकाउंट बना सकते है और इस्तेमाल भी कर सकते हैं।
  7. सीक्रेट चैटटेलीग्राम का सीक्रेट चैट end-to-end एन्क्रिप्टेड होता है। इसके ज़रिए आप जो भी चैट करते हैं वह टेलीग्राम के सर्वर पर स्टोर नहीं किया जाता। इसमें न आप इसके मैसेज को कहीं फॉरवर्ड कर सकते हैं और न ही उसका स्क्रीनशॉट ले सकते हैं। इसके हर एक चैट पर एक सेल्फ डिस्ट्रक्ट टाइमर लगा होता है जिसके बाद वह चैट अपने आप डिलीट हो जाएगा।
  8.  मल्टीपल एक्सेसआप अपने टेलीग्राम एकाउंट को अपने मोबाइल नंबर के ज़रिए टेबलेट या कंप्यूटर से कहीं भी और कभी भी एक्सेस कर सकते हैं। इसके लिए टेलीग्राम वेब बनाया गया है।

SECURITY FEATURES

टेलीग्राम के सिक्योरिटी फ़ीचर्स इसको ख़ास बनाते हैं। जैसे-

  1. Privacy- इसमे फ़ोन नम्बर, last seen, प्रोफाइल फोटो, कॉल्स, ग्रुप इन सब पर प्राइवेसी लगा सकते हैं।आप इसके forwarded मैसेज पर भी प्राइवेसी लगा सकते हैं। जिससे अगर कोई आपका massege किसी तीसरे को फारवर्ड करेगा तो उस तीसरे व्यक्ति को आपका नाम ज़रूर दिखेगा।
  1. Encryption- दूसरे मैसेन्जर एप में 2 लेयर एन्क्रिप्शन होता है जबकि टेलीग्राम में 3 लेयर एन्क्रिप्शन होता है। जिससे आपका पूरा डेटा सिक्योर्ड रहता है। इसके लिए यह MTProto Protocol का इस्तेमाल करता है।
  2. Security- Telegram में ख़ुद का पासवर्ड सिस्टम होता है। जिससे आप टेलीग्राम को एक पासकोड से लॉक कर सकते हैं।इसमें आप 2 step verifiacation भी लगा सकते हैं जिससे आपके नंबर से कोई और टेलीग्राम पर लॉगिन न कर पाए।
  1. Cloud Storage- टेलीग्राम में क्लाउड स्टोरेज होने की वजह से आपको अपने फ़ोन में स्टोरेज पर कोई दिक्कत नहीं आएगी। क्योंकि इसमें आप टेलीग्राम की मीडिया फाइल्स अपने स्टोरेज से डिलीट करने के बाद दोबारा डाउनलोड कर सकते हैं।

TELEGRAM WHATSAPP से कैसे बेहतर है?

टेलीग्राम और व्हाट्सएप दोनों ही मैसेजिंग एप में बेहतरीन है। लेकिन टेलीग्राम के प्राइवेसी और सेक्युरिटी फ़ीचर्स इसे Whatsapp से ज्यादा बेहतर बनाते हैं। ख़ासकर इसका 3 लेयर एन्क्रिप्शन इसे व्हाट्सएप से ज्यादा सिक्योर बनाता है।

अब बात बेसिक फ़ीचर्स की किया जाए तो इसके वीडियो और वॉइस कॉल की क्वालिटी भी अच्छी है। टेलीग्राम में आप मैक्सिमम दो लाख लोगों का ग्रुप बना सकते हैं जबकि Whatsapp में आप 250 लोगों का ही ग्रुप बना सकते हैं।

टेलीग्राम में आपको सीक्रेट चैट का फ़ीचर मिलता है जो कि whatsapp में नही है। इसका टेलीग्राम चैंनल का फ़ीचर भी इसे Whatsapp से ज्यादा बेहतर बनाता है।

My basic information:

https://indianmarketer.in

मेरे नाम Umair है। मेने engineering की है और blogging करना मेरी hobby है। अपनी सोच को शब्दों में लिखना और खुद सीखते हुए दुसरो को कुछ सिखाने का मज़ा ही कुछ और है। मेरी बाकी पोस्ट Indian-marketer ब्लॉग पर है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here